Join us?

खेल

Sport News: यशस्‍वी जायसवाल ने लगातार दो टेस्‍ट में दोहरे शतक जमाए

नई दिल्ली। इंग्लैंड के विरुद्ध हैदराबाद टेस्ट में हार के बाद भारत की अनुभवहीन बल्लेबाजी को लेकर बड़ी चिंता जताई गई थी, लेकिन अगले दो टेस्ट में इन्हीं निडर युवा खिलाड़‍ियों ने अवसर को भुनाते हुए भारत को पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त दिलाने में अहम भूमिका निभाई।इस सीरीज के दौरान यशस्वी जायसवाल ने खुद को आक्रामक आरंभिक बल्लेबाज के रूप में स्थापित किया और लगातार दो दोहरे शतक जड़कर इस 22 वर्षीय खिलाड़ी ने साबित किया कि वह लंबी रेस के घोड़े हैं। यशस्वी ने बचपन के दिनों से काफी संघर्ष किया है और उनके खेल में रनों की भूख दिखती है।
यशस्‍वी ने किया प्रभावित
राजकोट में उन्होंने अपनी पारी की शुरुआत में धैर्य से बल्लेबाजी की और क्रीज पर समय बिताने के बाद बेखौफ होकर बड़े शॉट लगाए। अनुभवी जेम्स एंडरसन के खिलाफ तीन छक्के उनके आत्मविश्वास की कहानी बयां करते हैं। उन्होंने दिखाया कि वह आवश्यकता के अनुसार रक्षात्मक और आक्रामक दोनों शैली में सहजता से खेल सकते हैं।
राजकोट टेस्ट में पदार्पण करने वाले सरफराज खान और विकेटकीपर ध्रुव चंद जुरैल भी अपने खेल से प्रभावित किया। सरफराज ने दोनों पारियों में अर्धशतक जड़कर टीम में सम्मिलित होने का जश्न मनाया तो वहीं जुरैल ने पहली पारी में 46 रन बनाकर बेहतर बल्लेबाजी का साक्ष्य दिया। जुरैल को हालांकि स्पिनरों की मददगार पिचों पर अपने विकेटकीपिंग कौशल को थोड़ा और निखारने पर काम करना होगा।
कप्‍तान रोहित शर्मा खुश
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा भी इन तीनों युवा खिलाड़‍ियों के प्रदर्शन से प्रभावित दिखे। उन्होंने इन तीनों की तस्वीर को इंटरनेट मीडिया पर साझा करते हुए लिखा, ये आजकल के बच्चे। लंबे समय से राष्ट्रीय टीम का दरवाजा खटखटा रहे सरफराज को विराट कोहली और केएल राहुल की अनुपस्थिति में जब अवसर मिला तो उन्होंने अपनी पारी की पहली ही गेंद से पूरा आत्मविश्वास दिखाया। यह लंबे समय से घरेलू क्रिकेट में उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन का परिणाम था।
भारतीय बल्लेबाज आम तौर पर स्वीप शॉट खेलने से बचते हैं, लेकिन सरफराज ने अपने ज्यादातर रन इसी शॉट पर बनाए। स्पिनरों के खिलाफ इस शॉट का प्रभावी इस्तेमाल किया। जुरैल विकेटकीपर के तौर पर पहली पारी में स्पिनरों के सामने कई बार असहज दिखे, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने अच्छी वापसी की।इंग्लैंड के आरंभिक बल्लेबाज बेन डकेट को उन्होंने शानदार प्रयास के साथ रनआउट किया। इंग्लैंड के खिलाड़‍ियों ने भी यशस्वी की तारीफ की। कप्तान बेन स्टोक्स इस बल्लेबाज का पीठ थपथपाते दिखे तो वहीं बेन डकेट ने उन्हें ‘भविष्य का सितारा’ बताया। जायसवाल ने लगातार अच्छे प्रदर्शन से टीम में अपनी जगह पक्की कर ली है तो वहीं सरफराज और जुरेल को आने वाले मैचों में प्रदर्शन की इस निरंतरता को जारी रखनी होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button