Join us?

खेल

Sports News: फाफ डू प्लेसिस सीएसके के लिए बन सकता बड़ी मुसीबत

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 17वें सीजन का पहला मुकाबला गतविजेता चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच खेला जाएगा। इस मुकाबले में सभी की नजरें आरसीबी टीम के कप्तान फाफ डू प्लेसिस के प्रदर्शन पर टिकी रहने वाली हैं, जो एक समय सीएसके टीम का एक खास हिस्सा होते थे। चेन्नई सुपर किंग्स टीम के लिए फाफ एक बड़ी मुसीबत बन सकते हैं, जिनको एमए चिदंबरम स्टेजियम में अब तक रिकॉर्ड काफी बेहतर देखने को मिला है और उन्हें इस स्टेडियम की पिच का भी काफी बेहतर तरीके से अंदाजा है।
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम की कप्तानी पिछले आईपीएल सीजन संभालने वाले फाफ डू प्लेसिस के नेतृत्व में टीम प्लेऑफ में अपनी जगह बनाने से काफी करीब से चूक गई थी। वहीं आरसीबी की कोशिश पहली बार खिताब जीतने की रहेगी और वह सीजन का आगाज भी जीत के साथ करना चाहेगी। फाफ डू प्लेसिस का एमए चिदंबरम स्टेडियम में रिकॉर्ड देखा जाए तो उन्होंने 19 मैच खेले हैं, जिसमें 36.87 के औसत से उन्होंने 553 रन अब तक बनाए हैं, इस दौरान उनके बल्ले से 4 अर्धशतकीय पारियां भी देखने को मिली हैं। वहीं डू प्लेसिस का स्ट्राइक रेट चेपॉक स्टेडियम में 119.44 का देखने को मिला है। फाफ ने अब तक सीएसके के खिलाफ 3 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 36 के औसत से 108 रन बनाए हैं, इस दौरान उनके बल्ले से एक अर्धशतकीय पारी भी देखने को मिली है।फाफ डू प्लेसिस के अलासा रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम का इस सीजन हिस्सा कर्ण शर्मा भी चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेल चुके हैं, ऐसे में उन्हें भी एमए चिदंबर स्टेडियम में खेलने का अनुभव हासिल है। लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने चेपॉक में अब तक 2 मुकाबले खेले हैं, हालांकि इसमें वह कोई भी विकेट हासिल करने में कामयाब नहीं हो सके। वहीं सीएसके के खिलाफ उनके रिकॉर्ड को देखा जाए तो वह भी अधिक शानदार देखने को नहीं मिलता है जिसमें वह 6 मैचों में 50.33 के औसत से सिर्फ 3 विकेट ही लेने में कामयाब हो सके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button